Ek अकेली वृद्धा ka kalyan | kahani manavta ki|

Ye kahani WhatsApp par mili to ESE post KARNE SE khudko ROK NAHI paya
maine ye post kiya hai kyuki ye kahani aap TAK pahochani bohat jaruri thee ES kahani ko padhkar aap KA man kahani KE us kirdar KE LIYE shukriya karega Jo अकेली वृद्धा Ki madad ES TARAH SE karta hai Ki वृद्धा
Aur kahanikar dono us vyakti KE KARYA KE ES tarike SE us vyakti ke kayal ho jate hai
Aur
Uske PRATI कृतज्ञता pragat (dikhate) HAI
unka हृदय उस व्यक्ति के प्रति कृतज्ञता से भर JATA HAI

Kahani achi HAI DOSTO padhna JARUR

पैदल वापस घर आ रहा था ।

रास्ते में एक बिजली खंभे में एक कागज लगा हुआ था ।
'कृपया पढ़ें' ऐसा लिखा था ।

फुरसत में था ही, पास जाकर देखा - "इस रास्ते पर मैंने कल एक ₹50 का नोट गंवा दिया है । मुझे ठीक से दिखाई नहीं देता । जिसे भी मिले कृपया इस पते पर दे सकते हैं ।" ...

यह पढ़कर पता नहीं क्यों उस पते पर जाने की इच्छा हुई । पता याद रखा । यह उस गली के आखिरी में एक झुग्गी झोपड़ी का है । वहाँ जाकर आवाज लगाया तो एक वृद्धा लाठी के सहारे धीरे-धीरे बाहर आई । मुझे मालूम हुआ कि वह अकेली रहती है । उसे ठीक से दिखाई नहीं देता ।
"माँ जी", मैंने कहा - "आपका खोया हुआ ₹50 मुझे मिला है उसे देने आया हूँ ।"
यह सुन वह वृद्धा रोने लगी ।

"बेटा, अभी तक करीब 50-60 व्यक्ति मुझे 50-50 ₹ दे चुके हैं । मै पढ़ी-लिखी नहीं हूँ, । ठीक से दिखाई नहीं देता । पता नहीं कौन मेरी इस हालात को देख मेरी मदद करने के उद्देश्य से लिखा है ।"

बहुत ही कहने पर माँ जी ने पैसे तो रख ली । पर एक विनती की - ' बेटा, वह मैंने नहीं लिखा है । किसी ने मुझ पर तरस खाकर लिखा होगा । जाते-जाते उसे फाड़कर फेंक देना बेटा ।'

मैनें तो उसे हाँ कहकर टाल तो दिया पर मेरी अंतरात्मा ने मुझे सोचने पर मजबूर कर दिया कि । उन 50-60 लोगों से भी माँ ने यही कहा होगा ।

किसी ने भी नहीं फाड़ा । मेरा हृदय उस व्यक्ति के प्रति कृतज्ञता से भर गया । जो इस वृद्धा की सेवा का उपाय ढूँढा । सहायता के तो बहुत से मार्ग हैं , पर इस तरह की सेवा मेरे हृदय को छू गई ।
उस अकेली वृद्धा की जिंदगी के लिए इससे अच्छा कोई उपाय नहीं है ।
मैंने उस कागज को फाड़ा नहीं ।

ES kahani me sare
Manavta kalyan kari
vyakti HAI

1 50₹ ke bare me kagaj par likhne wala mahan vyakti

2 wo har vyakti jisne aurat ko
50 ₹ ka not diye

3 lekhak jisne Jid karke 50 ₹ ka not aurat ko DE hi diya
Aur
Kagaj BHI NAHI fada


आप ही बताइये आप अगर ऐसी परिस्थिति का सामना करते तो क्या करते ।

मेरा निवेदन है कि आप इस POST को जरूर SHARE करें ।

 BHARTIYA MAHAPURSHO KE BARE ME JANNE KE LIYE CLICK KARE 


Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Popular Posts